एनऍफ़सी (NFC) क्या है मोबाइल में एनऍफ़सी क्यों यूज़ करते है

एनऍफ़सी (NFC) क्या है मोबाइल में एनऍफ़सी क्यों यूज़ करते है

SHARE

अगर आप स्मार्टफ़ोन यूज़ करते है तो आपने एनऍफ़सी (NFC) के बारे में जरुर सुना होगा तो ऐसे में क्या आपको पता है की एनऍफ़सी क्या है  मोबाइल में एनऍफ़सी का क्या यूज़ है तो आज के इस पोस्ट में , हम आपको एनऍफ़सी के बारे पूरी जानकारी देंगे ये क्या है ये किस तरह काम करता है

आपने देखा है आज कल एनऍफ़सी (NFC) का यूज़ हर जगह हो रहा चाहे वो मोबाइल पेमेंट करना हो या फिर किसी को डिटेल्स देना है जैसे की  कार्ड इत्यादि एनऍफ़सी टेक्नोलॉजी का यूज़ बहोत जगह किया जाता है तो आइये जान लेते है आखिर एनऍफ़सी है क्या ?

एनऍफ़सी (NFC) क्या है

एनऍफ़सी एक वायरलेस टेक्नोलॉजी है जिसका पूरा नाम है नियर फील्ड कम्युनिकेशन (Near Field Communication) , जिसमे आप दो डिवाइस को पास में लाके कनेक्शन बना सकते है बिना किसी वायर के और डेटा हो शेयर यानि सेंड कर सकते है या फिर रिसीव कर सकते है एनऍफ़सी आपके मोबाइल के बेक कवर , बैटरी या मोबाइल के टॉप पे लगाया जाता है एनऍफ़सी को आप अपने मोबाइल के सेटिंग में जाके एक्टिवेट कर सकते है

एनऍफ़सी में एलेक्ट्रोमेग्नेटिक  रेडियो फील्ड (Electromagnetic Radio Field) का यूज़ किया जाता है इशलिये आपको डिवाइस के बीच में कनेक्शन बनाने के लिए आपको डिवाइस को एक दुसरे से टच करना होता है इसकी रेंज 3-4cm तक ही होती है इससे दूर अगर आप डिवाइस को ले जायेंगे तो डिवाइस के बीच में कनेक्शन नहीं बन पायेगा और न ही आप किसी तरह का डेटा शेयर कर पाएंगे ,एनऍफ़सी(NFC) 106kbps से लेकर 424kbps तक का स्पीड सपोर्ट करता है   यानि की इसमें जो भी डाटा सेंड या रिसीव होगा वो इसी स्पीड से होगा

एनऍफ़सी (NFC) काम कैसे करता है

जब भी हम अपने मोबाइल में एनऍफ़सी को एक्टिवेट करते है तो एक कम्युनिकेशन फिल्ड बनता है डिवाइस के आस पास और जैसे ही आप कोई दूसरा एनऍफ़सी डिवाइस इसके पास लाते है तो और  इससे टच करते है तो दोनों के बीच कनेक्शन बनता जाता है उसके बाद जो भी डाटा होता है वो सेंड या फिर रिसीव हो जाता है लेकिन इसके लिए दोनों डिवाइस में एनऍफ़सी इनेबल यानि एक्टिवेट होना चाहिए  आप नीचे डायग्राम से समझ सकते है एनऍफ़सी कैसे काम करता है मोबाइल डिवाइस
NFC

एनऍफ़सी टेग (NFC Tag) क्या है

एनऍफ़सी एक छोटा सा चिप होता है जिसे हम एनऍफ़सी टैग भी कहते है इसके अन्दर एक छोटा माइक्रोचिप होता है जिसमे आप स्माल अमाउंट यानि बाईट्स(Bytes) में डाटा यानि कमांड को स्टोर कर सकते है इसका मतलब ये ही की आप जो भी कमांड स्टोर करना चाहते है वो आप इस चिप के अन्दर स्टोर कर सकते है इसके बाद आप जब भी एनऍफ़सी टेग को किसी एनऍफ़सी डिवाइस के पास ले जायेंगे तो ये वो कमांड को एक्सीक्यूट करेगा  यानि जो भी कमांड आपने इसके अन्दर डाला है ये वो काम करेगा

एनऍफ़सी टैग में आप कमांड को अपने मोबाइल के यूज़ से स्टोर कर सकते है उसके लिए एक एप्लीकेशन आता है जिसका नाम है एनऍफ़सी ट्रिगर ये आपको गूगल प्ले स्टोर में मिल जाएगा उस एप्स से आप एनऍफ़सी टेग के अन्दर कमांड दाल सकते है

[alert-note]

एसडी कार्ड (SD Card) क्या है कितने प्रकार के होते है
टोर और वीपीएन (Tor vs Vpn) मे क्या अंतर है
LAN MAN WAN Network में क्या अंतर है

[/alert-note]

एनऍफ़सी मोड्स (NFC Modes) क्या है

एन ऍफ़सी डिवाइस थ्री मोड में काम : पीअर टो पीअर (Peer to Peer) , रीड / राईट मोड (Read/Write) , कार्ड एमुलेशन (Card Emulation).
1.पीअर टो पीअर (Peer to Peer) : इसे दोनों डिवाइस को एक्टिव रहना होता है तभी डाटा या इनफार्मेशन को शेयर कर सकते है
2.रीड / राईट मोड (Read/Write): इसमें वन वे कम्युनिकेशन होता है इसका सीधा और इजी उदाहरन है एनऍफ़सी टैग्स इसमें जो भी इनफार्मेशन होता है उसे आप बस रीड कर सकते हो
3.कार्ड एमुलेशन (Card Emulation) : इसमें आप एनऍफ़सी डिवाइस को स्मार्ट कार्ड ,डेबिट कार्ड या क्रेडिट कार्ड की तरह यूज़ कर सकते है

एनऍफ़सी (NFC Modes) के यूज़ क्या है

1.एनऍफ़सी का यूज़ आप डाटा ट्रान्सफर करने के यूज़ कर सकते है
2.एनऍफ़सी का यूज़ आप मोबाइल से पेमेंट करने के यूज़ कर सकते है
3.एनऍफ़सी का यूज़ आप बिजिनेस कार्ड में कर सकते है
4.एनऍफ़सी का यूज़ आज कल कैमरा में भी किया जाता है फोटोज वीडियोस को शेयर करने के लिए

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY